India’s Ranking in Various Indexes 2020

विभिन्न सूचकांक में भारत की रैंकिंग (India’s Ranking in Various Indexes) पर सवाल कई बैंक और सरकारी परीक्षाओं जैसे आईबीपीएस आरआरबी, एसबीआई पीओ, आईबीपीएस पीओ और आईबीपीएस क्लर्क और अन्य परीक्षाओं में पूछे जाते हैं। इस लेख में हम इंडिया इंडेक्स रैंकिंग और विभिन्न इंडेक्स में भारत की रैंकिंग के बारे में चर्चा करेंगे।

इंडिया इंडेक्स रैंकिंग – विभिन्न इन्डेक्सेस के लिए रैंकों की गणना

रैंक की गणना एक गहन शोध के बाद की गई है, जिसमें देश की अंतिम स्थिति के बारे में मौजूदा स्थितियों की स्पष्ट समझ है। ये नीलसन, एटी किर्नी, अर्न्स्ट एंड यंग, एफएम ग्लोबल, हुआवेई, वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम और कुछ और ऐसे ही संगठनों द्वारा किए जाते हैं। रैंक की गणना विभिन्न मापदंडों को देखते हुए की जाती है और फिर रैंक के रूप में समग्र मूल्य प्रस्तुत किया जाता है। उदाहरण के लिए, मानव विकास सूचकांक, जीवन प्रत्याशा, शिक्षा और जीडीपी जैसे मापदंडों (संकेतक) पर काम करता है। पैरामीटर व्यक्तिगत देशों की सापेक्ष रैंकिंग निर्धारित करते हैं।

इंडिया इंडेक्स रैंकिंग – विभिन्न सूचकांक

आइए विभिन्न इंडेक्स की जांच करें जो विभिन्न देशों को उनके संबंधित मानदंड के अनुसार रैंक करने के लिए उपयोग किए जाते हैं। हम संबंधित इंडेक्स के नीचे सूचीबद्ध कर रहे हैं।

विभिन्न सूचकांक में भारत की रैंकिंग (India’s Ranking in Various Indexes In Hindi)

  • वास्तुकला प्रदर्शन सूचकांक (Architecture Performance Index) – 127
  • एशिया पावर इंडेक्स (Asia Power Index)- 04
  • जलवायु परिवर्तन प्रदर्शन सूचकांक (Climate Change Performance Index)- 11
  • कॉमनवेल्थ इनोवेशन इंडेक्स (Commonwealth Innovation Index) – 10
  • भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (Corruption Perception Index) – 78
  • क्रोनी कैपिटलिज्म इंडेक्स (Crony Capitalism Index) – 09
  • ई सरकार विकास सूचकांक (E Govt. Development Index)- 96
  • ई अपशिष्ट सूचकांक (E Waste Index) – 05
  • व्यापार करने में आसानी सूचकांक (Ease Of Doing Business Index) – 77
  • पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक (Environmental Performance Index) – 177